नए कलाकारों की पहली पसंद बनी री ट्यून
भोजपुरी संगीत जगत में आइ क्रांति ने कलाकारों और गायको को प्लेटफ़ार्म उपलब्ध कराने के कई स्थान उपलब्ध तो करा दिए लेकिन सही स्थान के अभाव में कलाकार ख़ुद को ठगा महसूस करते हैं । ऐसे में नए कलाकारों को उनकी प्रतिभा उभारने के लिए बड़े कैनवास पर उतरी री ट्यून ने कम समय में ही कलाकारों और संगीत प्रेमियों के दिल में जगह बना ली है ।

री ट्यून के प्रमुख अशोक कुमार दीप भोजपुरी गीत संगीत के पुरोधा माने जाते है । कई बड़ी म्यूज़िक कम्पनियों में भोजपुरी को मुकम्मल स्थान दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा चुके अशोक कुमार दीप ने बताया कि आधुनिकीकरण ख़ास कर बाज़ारीकरण के इस दौर में संगीत कम्पनियाँ मात्र व्यू के लिए काम कर रही है पर री ट्यून का उद्देश्य भोजपुरी संगीत प्रेमियों को साफ़ सुथरी और कर्ण प्रिय संगीत उपलब्ध कराना है । उन्होंने बताया कि कम समय में ही काफ़ी नए गायक री ट्यून से जुड़ चुके हैं और इसकी संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है । बहरहाल , री ट्यून ने भोजपुरी संगीत के क्षेत्र में एक नई शुरुआत कर दी है जिसका दूरगामी परिणाम भी दिखना शुरू हो चुका है ।
—–Akhlesh Singh (PRO)

Print Friendly, PDF & Email

By admin